कोविड-19 के बाद सडन कार्डिएक डेथ यानी अचानक कार्डिएक अरेस्ट होने से मौत एक बड़ी चिंता बढ़ गई है।

स्वस्थ जीवनशैली का पालन करना हमेशा ही अच्छा रहता है।

जिसमें धूम्रपान से परहेज़, नियमित तौर पर व्यायाम करना,

अधिक मात्रा में फ्लुइड्स का सेवन करना,

अधिक तनाव वाले ऐसे व्यायाम नहीं करना जिनसे स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है, शामिल है।

नियमित रूप से ऐसे भोजन करें जिससे शरीर को पूरा पोषण मिले।

साथ ही जंक फूड से परहेज़ करें और योग जैसे व्यायाम करें।

जिम ट्रेनर्स इतने अनुभवी या योग्य नहीं होते हैं कि वे हैवी वर्कआउट कराते हुए आपकी रक्षा भी कर सकें।

गंभीर कार्डिएक बीमारियों से पीड़ित लोगों को हैवी वर्कआउट से बचना चाहिए।

हृदय से संबंधित समस्या जैसे कार्डियोमायोपैथी या हाइपरट्रोफिक कार्डियोमायोपैथी के कारण हैवी वर्कआउट के दौरान मौत होने की आशंका बढ़ जाती है।

कुछ अन्य कंडीशंस भी इसके लिए ज़िम्मेदार होती हैं जैसे कॉन्जेनिटल हार्ट डिज़ीज़ जिनकी ओर ध्यान नहीं जाता है

सडन कार्डिएक डेथ के मामले बढ़ने की एक वजह बढ़ता मानसिक तनाव और दिनभर बैठी रहने वाली जीवनशैली भी है

जिसका आजकल युवाओं में काफी चलन है और इसकी वजह से उनकी दैनिक दिनचर्या भी प्रभावित होती है।